दुनियाके सबसे लंबे “गीता जयंती पर्व” का गिव वाचा और क्रुप म्यूजिक ने किया प्रारंभ

GITA JAYANTI PARV 2022

गिव वाचा फाउंडेशन और क्रुप म्यूजिक ने दुनिया का सबसे लंबा “गीता जयंती पर्व” लॉन्च किया। यह पर्व 3 नवंबर से 3 दिसंबर तक एक महीने तक चलेगा। इस माह के दौरान ये संस्थाएं विभिन्न सामाजिक और सांस्कृतिक गतिविधियों के माध्यम से श्रीमद्भगवद्गीता के संदेश को विश्व के कोने-कोने में पहुंचाने का प्रयास करेंगी। गौरतलब है कि क्रुप म्यूजिक इंस्टीट्यूट ने दुनिया भर में गीता के संदेश को ले जाने के लिए अपने सभी यूट्यूब चैनल, फेसबुक, इंस्टाग्राम और अन्य सोशल मीडिया हैंडल को “गीता जयंती पर्व” के लिए मुफ्त दिया है।

इसके साथ ही 27 नवंबर से 3 दिसंबर तक का सप्ताह “कृप म्युज़िक फेस्टिवल” के रूप में मनाया जाएगा। जिसमें जाने-माने गायक, गीतकार, संगीतकार, कवि, लेखक, नर्तक और अन्य कलाकार अपनी कला के माध्यम से कृष्ण भक्ति को प्रस्तुत करेंगे। इस पूरे कार्यक्रम की परिकल्पना डॉ. कृपेश ठक्कर ने कि है।

गीता जयंती पर्व 2022 के सात इंद्रधनुषी कार्यक्रम

इस “गीता जयंती पर्व 2022” के इंद्रधनुषी सात कार्यक्रम इस प्रकार हैं।

  1. “गुंजे गीता” कार्यक्रम: इस कार्यक्रम में यंगेस्ट सिंगर पांच वर्षीय पर्व ठक्कर, दस वर्षीय वाचा ठक्कर और डॉ. कृपेश ठक्कर के पर्व फ्यूजन बैंड द्वारा विभिन्न संस्थानों, स्कूलों, अनाथालयों और वृद्धाश्रमों में गिटार पर भगवद गीता के अध्यायों का पाठ किया जा रहा है।
  2. “कृप टोक्स” कार्यक्रम: इस कार्यक्रम में विभिन्न वक्ताओं और कवियों द्वारा भगवद गीता और कृष्ण भक्ति की रचनाएं प्रस्तुत की जाएंगी।
  3. “गीता जयंती पुस्तक”: इस माह में गीता जयंती के दिन गिव वाचा फाउंडेशन ट्रस्ट द्वारा गुजरात तथा विश्वभर में रहने वाले कृष्णप्रेमी कवियों की एक एक रचना को संकलित कर पुस्तक के रूप में प्रकाशित किया जायेगा। इस कार्य में 70 से अधिक कवियों ने नि:शुल्क अपना योगदान दिया है और अपनी कला के माध्यम से इस उत्सव में शामिल हुए हैं। इसके अलावा, डॉ. कृपेश ठक्कर की भगवद गीता पर आधारित पुस्तक और कविता संग्रह और 10 वर्षीय वाचा ठक्कर की बच्चों की किताब भी गीता जयंती पर लॉन्च की जाएगी।
  4. “कृष्ण भक्ति के गाने”: इस माह में गीतकार, संगीतकार एवं गायक डॉ. कृपेश ठक्कर कृष्ण भक्ति गीतों की प्रस्तुति करेंगे। जिसे कृप म्यूजिक के जरिए विभिन्न म्यूजिक स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर लॉन्च किया जाएगा। इस गाने में पर्व ठक्कर और वाचा ठक्कर बतौर सिंगर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाएंगे.
  5. “घर घर गूंजे गीता”: इस कार्यक्रम में दुनिया भर में रहने वाले गीता प्रेमी गीता के श्लोकों का पाठ, मोबाइल फोन से शूटिंग कर डिजिटली जुड़ रहे हैं। उनके वीडियो कृप म्यूजिक के जरिए लोगों तक पहुंच रहे है। इस प्रकार गीता को अधिक से अधिक घरों तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।
  6. “ओपन बुक गीता परीक्षा”: इस उत्सव के तहत गीता जयंती के दिन गांधीधाम में ओपन बुक गीता परीक्षा का आयोजन किया गया है। परीक्षा में उपस्थित होने वाले प्रत्येक व्यक्ति को भगवद गीता पुस्तक उपहार के रूप में दी जाएगी।
  7. “गीता जयंती महोत्सव”: गीता जयंती महोत्सव का समापन 3 दिसंबर गीता जयंती के दिन आदिपुर कच्छ में सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ होगा। जिसमें विभिन्न कलाकार संगीत, नृत्य और साहित्य के माध्यम से भगवद गीता की महिमा का गान करेंगे।
KRUP MUSIC FESTIVAL 2022

इस कार्यक्रम के माध्यम से नवजात शिशु में होते क्लबफुट रोग के प्रति लोगों को जागरूक करने का कार्य “ग्लोबल क्लबफुट अवेरनेस पर्व” के भारत के प्रतिनिधि पर्व ठक्कर और डॉ. कृपेश ठक्कर के द्वारा किया जा रहा है। इस मौके पर बोलते हुए डॉ. कृपेश ठक्कर ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण और श्रीमद्भगवद्गीता के प्रति उनका अनूठा प्रेम इस कार्य की प्रेरणा बना। उन्होंने आगे कहा कि दुनिया के सबसे लंबे गीता जयंती पर्व की संकल्पना और योजना उनके माध्यम से भगवान की कृपा से हो रही है और उन्होंने इस प्रयास को प्रभु के चरणों में समर्पित कर दिया है। इसके साथ ही उन्होंने बिना किसी अपेक्षा के इस भागीरथ कार्य में सहयोग करने वाले कृष्ण भक्तों का हृदय से आभार व्यक्त किया।

ओपन बुक गीता परीक्षा में भाग लेने के लिए: यहां क्लिक करें

आयोजन में समय देने के लिए: यहां क्लिक करें

गीता जयंती पुस्तक में अपनी रचना भेजने करने के लिए: यहां क्लिक करें

घर घर गूंजे गीता और कृप टोक्स में भाग लेने के लिए: यहां क्लिक करें

कार्यक्रम में शामिल होने के इच्छुक लोग GiveVacha.org और KrupMusic.com पर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।